वैक्सीन का नोट कनेक्शन : ज्यादा पैसे वालों को ही लगा कोरोना का टीका, 86 प्रतिशत है हाई क्लास या हाई मिडिल क्लास

Prabhat khabar Digital

देश-दुनिया में एक बार फिर से कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ने लगा है. वहीं दूसरी ओर दुनिया भर में वैक्सीनेशन भी तेजी से किया जा रहा है.

हालांकि New York Times के अनुसार कोरोना वैक्सीन को लेकर एक आंकड़ा सामने आया है. जिसमें दावा किया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीन लेने में कम आय वाले देशों की तुलना में अधिक आय वाले देशों ने बाजी मार ली.

वैक्सीनेशन डाटा के अनुसार 86 प्रतिशत कोरोना वैक्सीन उच्च और उच्च-मध्यम-आय वाले देशों ने हासिल किया, जबकि कम आय वाले देशों को केवल 0.1 प्रतिशत ही कोरोना का वैक्सीन मिल पाया.

यूनिसेफ के आंकड़ों के अनुसार मध्यम-आय वाले देशों को वैक्सीन का अनुबंध जीतने में कठिनाइयां हुईं.

जबकि कम आय वाले देशों ने जनवरी 2021 में अपने पहले वैक्सीन खरीद समझौते किये. आठ महीने बाद यूनाइटेड स्टेट्स और यूनाइटेड किंगडम ने अपनी पहली डील की.

30 मार्च 2021 तक कोवाक्स ने 70 देशों में 32.9 मिलियन वैक्सीन खुराक भेज दी हैं. जिसमें अधिकांश कम आय वाले देशों को दान किया गया है.