कोरोना ने किया लोगों को लाचार, अपनों के लिए तड़पते लोग, जानें कब खत्म होगी यह महामारी

Prabhat khabar Digital

देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा प्रतिदिन बढ़ रहा है. साथ ही मरने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है.

विशेषज्ञों का कहना है कि बुनियादी सुविधाओं के अभाव में मरीज ज्यादा मर रहे हैं. अस्पताल में जगह नहीं है और जब मरीज घर से अस्पताल पहुंचते हैं उनकी स्थिति बिगड़ चुकी होती है, अगर यही स्थिति रही तो कुछ दिनों में मरने वालों की संख्या तिगुनी हो जायेगी.

अस्पतालों में आॅक्सीजन की कमी है और मरीज को इसकी सख्त जरूरत है. एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया का कहना है कि भारत बहुत बड़ा देश है ऐसे में यहां पीक विभिन्न हिस्सों में अलग-अलग समय में आयेगा.

डाॅ रणदीप गुलेरिया का कहना है कि अगर देश में कोरोना की तीसरी लहर को आने से रोकना है तो वैक्सीनेशन ने एकमात्र उपाय है.

मरने वालों का आंकड़ा इस कदर बढ़ रहा है कि अंतिम संस्कार में जुटे कर्मियों को 15-15 घंटे काम करना पड़ रहा है.

कोरोना महामारी कैसे फैलता है और इसे कैसे रोका जाये? यह सवाल अभी भी वैज्ञानिकों के लिए एक पहेली है. ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन भी यह मान रहा है कि कोरोना महामारी हवा के जरिये फैल सकता है अगर दो व्यक्ति ज्यादा नजदीकी से संपर्क में आयें.