एक अरब वैक्सीनेशन की उपलब्धि पर तिरंगे के रंग में रंगे देश के 100 विरासत

Prabhat khabar Digital

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ते हुए देश में कोविड 19 टीकों की 100 करोड़ से अधिक खुराक आज दे दी गयी. यह ऐतिहासिक क्षण है और एक रिकाॅर्ड भी .

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोविड-19 रोधी टीकों की अब तक दी गई खुराक की संख्या 100 करोड़ के पार होने पर कहा कि भारत ने इतिहास रच दिया है. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने राष्ट्रीय ध्वज के रंगों से अपने 100 विरासत स्मारकों को रोशन करने का फैसला किया.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इस मौके पर एक गीत और एक फिल्म जारी की, जिसमें दुनिया के सबसे बड़े कोविड टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत करने के पीछे के प्रयासों को दर्शाया गया है.

लाल किले पर देश का सबसे बड़ा खादी तिरंगा प्रदर्शित किया गया है, जिसका वजन करीब 1,400 किलोग्राम है. इस तिरंगे की लंबाई 225 फुट और चौड़ाई 150 फुट है. यही तिरंगा दो अक्टूबर को गांधी जयंती पर लेह में फहराया गया था.

स्पाइसजेट ने 100 करोड़ खुराक की उपलब्धि हासिल होने पर दिल्ली हवाई अड्डे पर अपने विमान को विशेष तौर पर सजाया जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और स्वास्थ्यकर्मियों के साथ ही स्पाइसजेट के बोइंग-737 विमान की भी तस्वीर है.

केंद्र सरकार के कई अस्पतालों पर बैनर लगाए गए और इस खास अवसर पर टीका लगवाने आए लोगों और अस्पताल कर्मियों को नाश्ता भी दिया गया.