High Uric Acid को करना है कंट्रोल, तो खाली पेट करें इन चीजों का सेवन

Prabhat khabar Digital

खराब खानपान और ऐसी चीजों का सेवन जो यूरिक एसिड बढ़ाती हैं. यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने से घुटनों में तेज दर्द, सूजन, अकड़न, जोड़ों में दर्द, लालिमा और घबराहट जैसी समस्याएं होने लगती हैं.

खून में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने से घुटनों में तेज दर्द, सूजन, अकड़न, जोड़ों में दर्द, लालिमा, अपच और घबराहट जैसी समस्याएं होने लगती हैं.

हाई यूरिक एसिड को घटाने के लिए सुबह खाली पेट और नाश्ते में किन चीजों का सेवन करना जरूरी है, इसकी जानकारी कई लोगों को नहीं है.

अगर आप सेब का सिरका पीते हैं तो ये आपको यूरिक एसिड कंट्रोल करने में मदद करेगा.

अगर आप सेब का सिरका नहीं पीना चाहते तो खाली पेट नींबू पानी का सेवन कर सकते हैंहाई फाइबर फूड्स में एवोकाडो, सेब, संतरे, अजवाइन, गाजर, खीरे, नाशपाती और जौ का सेवन कर सकते हैं.

अलसी के बीज में ओमेगा-3 फैटी एसिड, फाइबर, प्रोटीन, विटामिन, मैग्नीशियम और फास्फोरस की अच्छी खासी मात्रा होती है. यह यूरिक एसिड के स्तर को काबू रखने में मदद करते हैं.

विटामिन सी से भरपूर चीजें इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में काफी फायदेमंद मानी जाती हैं. विटामिन सी युक्त फूड्स जैसे कीवी, आंवला, संतरा, नींबू, अमरूद, टमाटर, हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करने से यूरिक एसिड के लेवल को काफी हद तक कम करने में मदद मिल सकती है.