Cucumber Side Effects: खीरे में पाए जाता ये Toxins, सांस की समस्या समेत इन मामलों में आपके लिए हो सकता है जहरीला

Prabhat khabar Digital

खीरे को हमेशा भोजन के साथ खाने की सलाह दी जाती है. क्योकि यह भोजन को आसानी से पचाने में मदद करता है. पर रात में खीरे का सेवन आपके सोने के रूटीन को बिगड़ सकता है. इसलिए खीरे को सोने से 2 से 3 घंटे पहले खाना चाहिए.

खीरे में कुकुरबिटेसिन नामक तत्व पाया जाता है. इसलिए जो लोग संवेदनशील पाचन तंत्र वाले होते है, उन्हें अधिक मात्रा में खीरा खाने से अपच की समस्या हो सकती है.

सामान्य स्थिति में ज्यादा खीरे का सेवन ब्लोटिंग और पेट फूलने जैसी समस्याओं का कारण बन सकता है. इसलिए खाने के समय खीरे को एक संतुलित मात्रा में ही लेना चाहिए.

खीरे की तासीर ठंडी होती है, इसलिए साइनस की बीमारी से ग्रसित लोगों को खीरे के इस्तेमाल में बहुत सावधानी बरतनी चाहिए.

सांस की समस्या से ग्रसित हैं तो खीरे के इस्तेमाल छोड़ दें. खीरे की तासीर ठंडी होती है जिससे आपके समस्याएं बढ़ सकती है. रात में खीरे का सेवन ऐसे लोगों के लिए जहर से कम नहीं है.

खीरे में ककुर्बिटिसिन और टेट्रासाइक्लिक ट्राइटरपीनॉइड जैसे टॉक्सिन पाए जाते हैं जो बड़ी मात्रा में सेवन करने पर हानिकारक साबित हो सकते हैं. खीरे के अधिक सेवन से उसमें मौजूद ककुर्बिटिसिन, आपके शरीर में पानी की मात्रा कम कर सकती है.

इतना ही नहीं खीरे में मौजूद विटामिन-सी की अधिकता, इसके कार्यों को उलट सकती है और एंटी-ऑक्सीडेंट के बजाय प्रो-ऑक्सीडेंट की तरह काम कर सकती है. जिसका प्रभाव अंत में हमारे शरीर पर ही पड़ता.