Friendship Day 2021: दोस्ती को बखूबी बयां करते हैं बॉलीवुड के ये डायलॉग, बनाए अपनी फ्रेंडशिप को और भी पक्की

Prabhat khabar Digital

अपनी दोस्ती टायर और ट्यूब जैसी है, हवा तेरी निकलती है और बैठ मैं जाता हूं- वंस अपॉन ए टाइम इन मुंबई दोबारा (2013)

दो दोस्त एक कप में चाय पिएंगे, इससे दोस्ती बढ़ती है- अंदाज अपना अपना (1994)

प्यार दोस्ती है, अगर वो मेरी सबसे अच्छी दोस्त नहीं बन सकती, तो मैं उससे कभी प्यार ही नहीं कर सकता- कुछ कुछ होता है (1998)

दोस्ती का एक उसूल है मैडम, नो सॉरी, नो थैंक्यू- मैंने प्यार किया (1989)

दोस्त फेल हो जाए तो दुख होता है, लेकिन दोस्त फर्स्ट आ जाए तो ज्यादा दुख होता है- 3 इडियट्स (2010)

जब दोस्त बनाकर काम हो सकता है, तो फिर दुश्मन क्या बनाना- वंस अपॉन ए टाइम इन मुंबई (2010)

दोस्ती का कोई मजहब नहीं होता, दोस्त और मौके बार-बार नहीं आते- शूटआउट एट वडाला (2013)