आज से बदल गये एटीएम निकासी, वेतन, ईएमआई, एलआईसी प्रीमियम के ये नियम, यहां जानें

Prabhat khabar Digital

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने नगद निकासी के लिए इंटरचेंज फीस में बदलाव किया है. पहले यह 15 रुपये था जो अब 17 रुपये हो जायेगा. गैर वित्तीय लेनदेन के लिए दर 5 रुपये से बढ़ाकर 6 रुपये कर दिया गया है.

एक अगस्त से आईसीआईसीआई बैंक ने नकद लेनदेन के लिए सीमा में संशोधन किया है. बचत खाता धारकों के लिए 3 लेनदेन की सुविधा मुफ्त दी गयी है. उसके बाद हर वित्तीय और गैर वित्तीय लेनदेन के लिए शुल्क देना होगा. इसके बाद प्रति वित्तीय लेनदेन पर 20 रुपये और गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए 8.50 रुपये का शुल्क लगेगा.

रिजर्व बैंक ने वेतन, पेंशन, ईएमआई आदि पेमेंट के नियमों में बदलाव किया है. नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) सुविधाएं सप्ताह के सभी दिन उपलब्ध होगी. छुट्टियों के दिन भी बल्क ट्रांसफर की सुविधा मौजूद रहेगी. पहले केवल बैंक कार्यदिवस के दिन ही यह काम होते थे.

रिजर्व बैंक ने जो नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) सुविधाएं सप्ताह के सभी दिन लागू की हैं. उसके तहत अब आप एलआईसी का प्रीमियम भी सप्ताह के किसी दिन दे सकेंगे. इसके साथ ही बिजली, गैस, टेलीफोन, ऋण की किश्तों, म्यूचुअल फंड में निवेश और बीमा प्रीमियम के संबंध में भुगतान करने की सुविधा भी होगी.

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) ने घोषणा की कि 1 अगस्त से ग्राहकों से उनके द्वारा अनुरोध की जाने वाली प्रत्येक डोरस्टेप सेवा के लिए शुल्क लिया जायेगा. नये नियमों के मुताबिक, ग्राहकों को हर डोरस्टेप सर्विस के लिए 20 रुपये प्लस जीएसटी देना होगा. जुलाई के महीने में इस तरह के कोई शुल्क नहीं थे.

ई कॉमर्स कंपनी को अब कोई भी प्रोडक्ट बेचने के लिए उसपर कहां निर्मित हुआ है, यह लिखना अनिवार्य होगा. मेक इन इंडिया का बढ़ावा देने के लिए ऐसा किया गया है. नियम के अनुपालन के लिए फ्लिपकार्ट, अमेजन जैसी ज्यादातर कंपनियों ने पहले से 'कंट्री ऑफ ओरिजिन' की जानकारी देनी शुरू कर दी है.

मोटर वाहन बीमा से जुड़े नियमों में बदलाव होने से एक अगस्त से नयी कार या बाइक खरीदना थोड़ा सस्ता हो सकता है. भारतीय बीमा विनियामक विकास प्राधिकरण (इरडा) के मुताबिक एक अगस्त से नयी गाड़ी खरीदने वालों के लिए तीन और पांच साल का बीमा एकसाथ लेने के लिए की बाध्यता नहीं होगी.