भारत के President की इतनी है सैलरी, हर महीने देते हैं इतना टैक्‍स

Prabhat khabar Digital

वित्‍त अधिनियम 2018 की धारा 137 के तहत किए गए संशोधन के बाद एक जनवरी 2016 से भारत के राष्‍ट्रपति का मासिक वेतन पांच लाख रुपये तय किया गया है

राष्ट्रपति को वेतन के अलावा राष्ट्रपति को अन्य भत्ते भी मिलते हैं जिनमें मुफ्त चिकित्सा, आवास और उपचार सुविधा (जीवन भर) शामिल हैं

राष्ट्रपति को दुनिया के सबसे बड़ा राष्ट्रपति आवास भी मिलता है जो 5 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है. यह राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के 330 एकड़ के हरे-भरे क्षेत्र का हिस्सा है

राष्ट्रपति भवन के रखरखाव का बजट भी करोड़ाें में है. इसके लिए 30 करोड़ रुपये का सालाना बजट आवंटित है

भारत सरकार हर साल उनके अन्य खर्चों जैसे आवास, स्टाफ, खाने-पीने और अतिथियों की मेजाबनी पर करीब 2.25 करोड़ रुपये खर्च करती है

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिछले दिनों कहा कि सब जानते हैं, राष्ट्रपति देश का सबसे ज्यादा सलैरी लेने वाला कर्मचारी है और वो टैक्स भी देता है. हम टैक्स भी देते हैं पौने तीन लाख रुपए महीना

राष्ट्रपति के जीवनसाथी को भी हर महीने 30,000 रुपये सेक्रटेरियल असिस्टेंस के तौर पर मिलता है

राष्ट्रपति को रिटायरमेंट के बाद हर महीने 1.5 लाख रुपये पेंशन मिलता है

राष्ट्रपति को दो फ्री लैंडलाइन और एक मोबाइल फोन मिलता है

राष्ट्रपति को रिटायरमेंट के बाद रेल या विमान से यात्रा फ्री में मिलती है, जिसमें वो एक आदमी को साथ भी ले जा सकते हैं.