Advertisement

Technology

  • May 19 2017 10:36AM

जानिए क्‍यों दुनियाभर में हुई Facebook की आलोचना

जानिए क्‍यों दुनियाभर में हुई Facebook की आलोचना
WhatsApp डेटा फेसबुक के साथ शेयर करने का मामला, जर्मनी कोर्ट का फैसला
ज्यादा समय नहीं हुआ, जब फेसबुक ने व्हाॅट्सएप की प्राइवेसी में बड़ा बदलाव किया था. इसके तहत व्हॉट्सएप यूजर्स को अपने चैट डीटेल्स फेसबुक के साथ शेयर करने के लिए बाध्य किया गया है. व्हाॅट्सएप की पेरेंट कंपनी फेसबुक व्हॉट्सएप यूजर्स के फोन नंबर और दूसरे डेटा, जैसे फोन में कौन सा मोबाइल ओएस यूज हो रहा है और स्क्रीन रिजोलूशन क्या है, आदि जानकारियां अब फेसबुक के पास भी शेयर होती हैं. इसके पीछे फेसबुक की दलील थी कि यह सोशल नेटवर्क को बेहतर बनाने के लिए है और इससे यूजर्स एक्सपीरिएंस और भी बेहतर हो जायेगा. 
 
हालांकि, इस फैसले के बाद दुनियाभर में कंपनी की काफी आलोचना हुई. हाल ही में जर्मनी के हैम्बर्ग डेटा प्रोटेक्शन अथॉरिटी ने फेसबुक को व्हाॅट्सएप से यूजर डेटा कलेक्ट करने पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने को कहा था. इतना ही नहीं, पहले से यूजर के लिये गये डेटा को सर्वर से डिलीट करने को भी कहा था. हैम्बर्ग डेटा प्रोटेक्शन कमिशनर कैस्पर ने कहा है कि फेसबुक ने न तो यूजर से डेटा ट्रांसफर करने की इजाजत मांगी और न ही यूजर की सहमती उसके पास है. इसके खिलाफ फेसबुक ने कोर्ट में अपील की, लेकिन कोर्ट से कंपनी को निराशा हाथ लगी है.
 

Advertisement

Comments

Advertisement