Advertisement

supaul

  • Apr 18 2017 4:54AM

एसएसबी ने नशीली दवाओं की खेप पकड़ी

 वीरपुर  : भारत-नेपाल सीमा क्षेत्र वीरपुर व भीमनगर इन दिनों नशीले पदार्थ के कारोबारियों का मुख्य अड्डा बनते जा रहा है. आये दिन एसएसबी व पुलिस द्वारा बड़े खेप में शराब व अन्य नशीले पदार्थों का पकड़ा जाना यह साबित करता है कि इस इलाके में बिहार में जारी पूर्ण शराबबंदी का तस्करों पर कोई प्रभाव नहीं पर रहा है

और ना ही सरकार द्वारा शराबबंदी के विरुद्ध बनाये गये कानून का कोई डर है. सोमवार की सुबह एसएसबी 45वीं बटालियन ने भारत नेपाल सीमा क्षेत्र भीमनगर में बोरी में बंद नशीली दवाई की भारी मात्रा व लावारिश मोटरसाइकिल बरामद किया.  बरामद नशीली दवाई कोडिन युक्त कफ सिरप, इंजेक्शन व टेवलेट शामिल है. जिसमें कोरेक्स की 232 बोतल, डाइलेक्स डीसी 269 बोतल, अलटोरेक्स सीटी 02 बोतल कुल 503 बोतल कफ सिरप, डीयाजेलब, फेनारागन, लुपिजेसिक की 05-05 एम्पुल इंजेक्सन व निट्रोसन की टेबलेट है. एसएसबी ने गुप्त सूचना मिली थी कि नशीली दवाईयां भीमनगर के सिंह कॉप्लैक्स में एक लावारिस प्लैटिना मोटरसाइकिल पर बोरा में लदा है.

एसएसबी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उक्त सिंह कॉप्लैक्स में छापेमारी कर उक्त मोटरसाइकिल सहित बोरी में बंद नशीली दवाई को कब्जे में ले लिया. कब्जे में ली गयी मोटरसाइकिल प्लैटिना का नंबर बीआर 38 एफ़ 8530 है. एसएसबी कमांडेंट राम अवतार भालोटिया ने बताया की कब्जे में लिए गये मोटरसाइकिल व नशीली दवाई को भीमनगर ओपी को सुपुर्द किया जा रहा है तथा आगे की जांच व कार्रवाई भीमनगर पुलिस करेगी. इस दौरान एसडीपीओ वीरपुर सुधीर कुमार व एसएसबी के एरिया आर्गेनाइजर एसएस थापा भी मौजूद थे.

 

Advertisement

Comments

Advertisement