Advertisement

patna

  • Oct 11 2015 3:10PM

लालू-नीतीश सत्ता के लिए सोनिया की शरण में : अमित शाह

लालू-नीतीश सत्ता के लिए सोनिया की शरण में : अमित शाह

छपरा / पटना : बिहार विधानसभा के दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रविवार को जेपी की जन्मस्थली पहुंचे. अमित शाह ने कहा कि वो जेपी की जयंती के दिन लाला टोला में उपस्थित होकर अपने आपको सौभाग्यशाली मान रहे हैं. उन्होंने कहा कि जेपी लोकतंत्र के सच्चे प्रहरी थे. जेपी ने राजनीति में संपूर्ण क्रांति के जरिए शुद्धता लायी. जेपी के नेतृत्व में ही पहली बार देश में गैर कांग्रेसी सरकार बनी. अमित शाह ने कहा कि जेपी राज्यसत्ता पर लोकसत्ता का अंकुश जरूरी मानते थे. उनके नेतृत्व में सैकड़ों बागी समाज की मुख्यधारा से जुड़े.

अमित शाह ने लालू-नीतीश पर निशाना साधते हुए कहा कि यह दोनों लोग सत्ता के लिए कांग्रेस की शरण में गए हैं. कोई भला ऐसे कैसे कर सकता है. अमित शाह ने कहा कि जेपी हमेशा गैर कांग्रेसवाद की वकालत करते थे. लोहिया और कर्पूरी भी करते थे, और जो इनका नाम लेकर बड़े हुए वो आज सोनिया की शरण में बेठे हुए हैं. अमित शाह ने कहा कि मुख्यमंत्री पद की लालसा की वजह से नीतीश ने जेपी के सिद्धांतों की हत्या की है. अमित शाह ने लोगों से कहा कि इसबार बिहार में ऐसी सरकार बनानी है जो जेपी के सिद्धांतों पर चले और बिहार एक मॉडल राज्य बने. साथी ही उन्होंने यह भी कहा कि जेपी की कल्पना का बिहार लालू नीतीश नहीं बना सकते केवल बीजेपी बना सकती है. कटाव की समस्या पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि बहुत जल्द यूपी में भी बीजेपी की सरकार होगी और बिहार में भी तो इस समस्या का हल भी निकाल लिया जाएगा. अमित शाह ने जेपी की जन्मस्थली पर जेपी का विशाल स्मारक बनाने की बात कही.

वहीं सभा को बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय और राजीव प्रताप रुड़ी ने भी संबोधित किया. सभी नेताओं ने लोगों से बीजेपी की सरकार बनाने की अपील करते हुए बीजेपी के प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने की अपील की.


Advertisement

Comments