Just In
तुर्की : फुटबॉल स्टेडियम के पास हुआ बम धमाका, 29 की मौत, 166 घायल बिहार के नालंदा में बस पलटने से 6 की मौत, 25 घायल एआईडीएमके के वरिष्ठ नेताओं ने शशिकला से पार्टी की कमान संभालने का आग्रह किया एआईडीएमके के वरिष्ठ नेताओं ने शशिकला से पार्टी की कमान संभालने का आग्रह किया प्रधानमंत्री जानते हैं कि नोटबंदी पटरी से उतर चुकी है, भाषण देने के अलावा उनके .. प्रधानमंत्री अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचे, डीसा में डेयरी प्लांट का उद्घाटन करेंगे #INDvsENG : मुरली विजय की शानदार बल्लेबाजी, शतक जड़ा IND अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला : पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी गिरफ्तार मुंबई : दादर इलाके से 85 लाख के नए नोट जब्त पंजाब: कोहरे के कारण दुर्घटना, 13 की मौत

UP

  • Nov 10 2013 7:50PM

दिग्विजय ने तौकीर रजा के साथ किया मंच साझा, बांधे तारीफ के पुल

दिग्विजय ने तौकीर रजा के साथ किया मंच साझा, बांधे तारीफ के पुल

संभल: उत्तर प्रदेश सरकार में राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त इत्तेहाद-ए-मिल्लत के नेता तौकीर रजा खान से मुलाकात को लेकर तमाम कांग्रेसी नेताओं द्वारा आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधे जाने के बीच कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह ने न सिर्फ एक समारोह में तौकीर के साथ मंच साझा किया बल्कि उनकी जमकर तारीफ भी की.

संभल में कल देर रात शुरु हुए कल्कि महोत्सव के उद्घाटन समारोह में तौकीर के साथ मंच साझा करते हुए कांग्रेस महासचिव सिंह ने कहा, ‘‘मैंने तौकीर रजा के बारे में सुना था कि वह हिन्दू मुस्लिम के बीच दंगा कराते हैं मगर आज उनके विचार सुन कर ऐसा लगा कि यह आरोप सही नहीं है. उनका बयान सुनकर ऐसा लगा कि वह उन पर आरोप लगाने वालों के मुंह पर तमाचा हैं.’’      आचार्य प्रमोद कृष्णन के आमंत्रण पर कल्कि समारोह में पहुंचे सिंह ने यहां तक कहा कि आचार्य कृष्णन और तौकीर रजा को देश में हिन्दू मुस्लिम एकता के मिशन को लेकर निकल पड़ना चाहिए.

 मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके सिंह ने वहां उनके सत्ता से बाहर होने के बाद से सत्ताधारी भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘मैंने मध्य प्रदेश में देश के पहले गो सेवा आयोग का गठन किया था मगर गो सेवा के नाम पर राजनीति करने वाले जब सत्ता में आए तो उन्होंने गो सेवा आयोग को भंग कर दिया.’’  इस मौके पर एक गौशाला के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए तौकीर रजा ने कहा, ‘‘इल्जाम है कि हिन्दू गाय को पूजते हैं जबकि हम गाय काटते हैं और खाते हैं. यह हमारे खिलाफ दुष्प्रचार है.’’ 


Advertisement

Comments