prabhatkhabar
बंगाल
महानगर में अवैध निर्माण: अब मकान के सामने होने लगे हैं अवैध निर्माण
By Prabhat Khabar | Publish Date: Mar 25 2014 8:40AM | Updated Date: Mar 25 2014 8:40AM
  • |
  • |
  • |
  • |
  • |
  • |
  • Big font Small font

 कोलकाता: महानगर के हृदय स्थल के रूप में जाना जाने वाला बड़ाबाजार एक बार फिर अवैध निर्माण को लेकर सुर्खियों में है. आये दिन यहां अवैध निर्माण पर निगम का हथौड़ा चलते भी देखा जाता है.

लेकिन बड़ाबाजार में होने वाले अवैध निर्माण आम तौर पर निगम के अधिकारियों, थाना- पुलिस व विशेषकर स्थानीय नेताओं के हाथ को गरम कर किया जाता है. वरना अवैध निर्माण करना संभव नहीं है. बड़ाबाजार के वार्ड 42 के तीन नंबर अमरतल्ला लेन के एक मकान के सामने परिसर में खाली स्थान में अवैध निर्माण का आरोप लगाया गया है.

मकान परिसर में अवैध निर्माण की शिकायत मिलने के बाद बड़ाबाजार थाना की ओर से दो बार हस्तक्षेप के बाद अवैध निर्माण फिलहाल बंद हैं. लेकिन कुछ दिन पहले मकान के सामने बंद किये गये अवैध निर्माण स्थल को अब बांस व तिरपाल लगा कर घेर दिया गया है. डीसी सेंट्रल व स्थानीय थाने में इस अवैध निर्माण के खिलाफ शिकायत करने वाले अशफाक खान ने आरोप लगाया कि यह संपत्ति हाजिअरी कासिम वक्फ बोर्ड का है. इसके अंतर्गत इस संपत्ति को कोई बेच नहीं सकता. बेचने के लिए वक्फ बोर्ड से अनुमति व सहमति लेनी पड़ेगी. साथ ही बिना अनुमति के किसी भी प्रकार का नये सिरे से निर्माण कार्य नहीं किया जा सकता. यहां तक की मरम्मत के लिए भी अनुमति लेनी पड़ेगी.


वर्तमान समय में इस मकान में कई लोगों के परिवार के साथ कई दुकानें व कार्यालय भी हैं. अशफाक ने आरोप लगाया कि मकान में हमेशा कुछ न कुछ अवैध निर्माण का कार्य होता रहता है. लेकिन इस बार तो मकान के प्रवेश द्वार के ठीक निकट खाली पड़े कॉमन प्लेस में अवैध निर्माण किया जा रहा है. पहले इस स्थान पर पार्किंग किया जाता था. लेकिन इन दिनों बांस व तिरपाल से उस स्थान को घेर दिया गया है. कुछ माह पूर्व स्थानीय एक नेता के कुछ करीबी लोगों ने मकान के केयर टेकर को लालच देकर यह जगह अपने नाम करा लिया और उसे लालच दिया कि इस खाली स्थान पर दुकान बना कर व उसे बेच कर जो लाभ होगा, उसमे केयर टेकर के साथ इन लोगों की हिस्सेदारी होगी. इसी के बाद यहां अवैध निर्माण शुरू किया गया. एक बार फिर नेता और उनके लोग चुनाव के दौरान अवैध निर्माण करने की ताक में हैं. इससे पहले भी मकान के कई खाली स्थान पर अवैध रूप से दुकान बना दिये गये हैं. मकान में रहनेवाले लोगों के साथ स्थानीय लोग इसके विरोध में हैं. अशफाक का आरोप है कि अमरतल्ला लेन में अगर कभी कोई अग्निकांड हुआ तो सड़क का हाल यह हो गया है कि फायर ब्रिगेड का कोई वाहन भी प्रवेश नहीं कर सकता. यहां तक की एंबुलेंस को आने में काफी असुविधा होगी.

तृणमूल के नेता लेते हैं अवैध निर्माण का ठेका : पार्षद
स्थानीय पार्षद सुनीता झंवर से इस बाबत पूछे जाने पर कहा कि हां इससे पहले भी इस मकान में अवैध निर्माण की शिकायत मिली है. मकान के सामने कॉमन प्लेस में तिरपाल व बांस लगा हुआ है. लेकिन आज तक यहां किसी भी प्रकार के निर्माण की अनुमति नहीं ली गयी है. अगर, फिर से अवैध निर्माण किया जाता है तो निगम के कानून के अंतर्गत उचित कार्रवाई की जायेगी. पार्षद ने कहा कि स्थानीय कुछ तृणमूल के नेता इस मकान में अवैध निर्माण का ठेका ले रहे हैं. एक साल पहले तृणमूल के नेताओं द्वारा इस मकान में अवैध निर्माण की शिकायत आयी थी. तृणमूल के लोग इस वक्फ बोर्ड के मकान में अवैध रूप से दुकान बना कर बेच रहे हैं. इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.
 
blog comments powered by Disqus
व्यापमं घोटाला मामला,आरोपियों की गिरफ्तारी और सम्पत्ति कुर्क करने का आदेशबेटे के खिलाफ आरोप साबित हुआ तो राजनीति छोड दूंगा: राजनाथ सिंहमिस्र:अरब-इस्राइल जंग में लापता सैनिक का 41 साल बाद मिला अवशेषयोगी आदित्यनाथ के वीडियो पर बवाल,मुस्लिमों के खिलाफ टिप्पणीतारा शाहदेव मामला:रंजीत उर्फ रकीबुल गिरफ्तारअमेरिका में धोखाधडी के आरोपों में हिंदू नेता ठहराया गया दोषीसंरा प्रमुख को उम्मीद:गाजा संघर्षविराम से शांतिवार्ता में होगी प्रगतिपूंजी प्रवाह बढने से सेंसेक्स 142 अंक की बढत के साथ खुलाब्रिटिश शहर में 1,400 बच्चों का हुआ यौन शोषणकॉन फिल्‍मों के फैन हैं परेश रावलसारधा चिटफंड घोटाला: 5 प्रभावशाली लोगों से पूछताछ की तैयारीपूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने की मांग दवा घोटाले की हो सीबीआइ जांचउपचुनाव के नतीजे के बाद: भाजपा में तकरार, विरोधियों का वारहनि सिंह ने मांगा सेनाक्षी का हाथ...सोहा के पार्टनर कुणाल ने अपने पैर पर बनवाया शिव भगवान का टैटूझामुमो सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगा : शिबू

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने की मांग दवा घोटाले की हो सीबीआइ जांच

पटना: पूर्व उपमुख्यमंत्री व भाजपा नेता सुशील मोदी ने 100 करोड़ से अधिक के दवा घोटाले की सीबीआइ जांच कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि यह घोटाला तब का है, जब नीतीश कुमार मुख्यमंत्री के साथ-साथ स्वास्थ्य मंत्री के भी प्रभार में थे.
उपचुनाव के नतीजे के बाद: भाजपा में तकरार, विरोधियों का वार250 की आबादीवाले अनुसूचित जनजाति के टोलों में बनेंगी सड़केंहज कमेटी को हर साल मिलेंगे 75 लाख : मांझीपूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने की मांग, दवा घोटाले की हो सीबीआइ जांचउपचुनाव के नतीजे के बाद: भाजपा में तकरार, विरोधियों का वार

कोर्ट जाकर कुरैशी ने गिराई गवर्नर पद की गरिमा

राजस्थान के नवनियुक्त राज्यपाल कल्याण सिंह के अनुसार उत्तराखंड के राज्यपाल अजीज कुरैशी ने सुप्रीम कोर्ट जाकर गवर्नर पद की गरिमा को ठेस पहुंचाई है. राज्यपाल पद की मर्यादा होती है, जिसका पालन कुरैशी ने नहीं किया. राज्यपाल को हमेशा पद पद की मर्यादा का पालन करना चाहिए.
भाजपा विधायक को ‘जेड’ श्रेणी सुरक्षा देने से पहले नहीं ली गयी उप्र सरकार की रायउत्तर प्रदेश:दंगों के 22 फरार आरोपियों के सिर पर पुलिस ने रखा ईनाममेरठ में दलित किशोरी से चाकू दिखाकर दुष्कर्मनाबालिग के साथ बलात्कारसपा में हो रहा अमर पर नफा-नुकसान का मंथन